त्वचा की समस्यायों के प्राकृतिक उपचार (उम्र के निशान , काले धब्बे , तिल , स्किन टैग्स)


मानव त्वचा बहुत विशेष होती है और विभिन्न तरीकों और कारणों से प्रभावित हो सकती है। त्वचा की समस्याएँ जैसे धब्बे , जलन या मस्सा बहुत सामान्य हैं फिर भी ये सभी के लिए असुविधाजनक होते हैं। सौभाग्य से, हमारे पास कुछ प्राकृतिक उपचार उपलब्ध हैं जिनसे इन समस्याओ का निवारण किया जा सकता है और आप पुनः अपनी त्वचा की सुंदरता प्राप्त कर सकते हैं।

scaraalll

ऐज स्पॉट्स (उम्र के निशान) : ये केवल बूढ़े लोगों को ही नहीं होते, बल्कि वे अत्यधिक धूप में रहने के कारण किसी भी उम्र में दिखाई दे सकते हैं। नींबू का रस, अपने ब्लीचिंग गुणों के कारण, आपकी त्वचा को उसकी जवानी वापस प्राप्त करने में सहायक है। यह नींबू का रस प्रभावित क्षेत्रों पर काले निशानों  को ब्लीच करने के लिए एक दिन में बार बार लगाएं । इसके अलावा, अपनी त्वचा को यू.वी. किरणों से बचाने के लिए सनस्क्रीन का उपयोग करें।

काले धब्बे : काले धब्बों से बचने के लिए मुख्य समाधान यह है कि त्वचा के छिद्रों को साफ बनाए रखें । त्वचा छिद्रों को खोलने के लिए भाप का स्नान लें और उसपर एप्पल साइडर विनेगर लगाएं जिससे गन्दगी हट सके । अंत में, नारियल के तेल से अपनी त्वचा को नम कर लें।

तिल : तिल अधिकतर हानिकारक नहीं होते सिवाय उनके जो कैंसर के कारक होते हैं । आप कुचले हुए लहसुन का उपयोग करके इनका उपचार कर सकते हैं। लहसुन के पेस्ट लगी हुई पट्टी से प्रभावित त्वचा को 4 घंटे के लिए ढक दें। आप लहसुन के स्थान पर एप्पल साइडर विनेगर का उपयोग भी कर सकते हैं , लकिन इसका प्रभाव उतना शक्तिशाली नहीं होता।

स्किन टैग्स : आम तौर पर , स्किन टैग्स कपड़ों के कारण त्वचा पर उत्पन्न होते हैं। इसका इलाज एप्पल साइडर विनेगर से होता हैं। एप्पल साइडर विनेगर को रुई के फाये से प्रभावित त्वचा पर दिन में कई बार लगाएं जब तक की टैग हल्का ना पड़ जाये। आपको 10 दिन में सकारात्मक परिणाम प्राप्त होगा।



Ask your health & beauty questions anonymously and answer others